Three Days Disaster Management Workshop for IRW Volunteers

Posted on 04 March 2020 by Zonal Admin

IMG-20200304-WA0005
 The relief team of Jamaat-e-Islami Hind Maharashtra, Ideal Relief Wing, organizes an annual workshop to train its volunteers. This helps them to prepare for relief work in any natural and Man-made disasters. Ideal Relief Wing Maharashtra organized one such workshop last week in collaboration with the District Disaster Management Authority, Collector Office, Kolhapur at Kanwad (dist: Kolhapur). This was a three day workshop from 29th February to 2nd March 2020.
The workshop began with a Qur’anic discourse. Mr. Mazher Farooque explained the purpose and objective of the workshop, and the details thereof. Mr. Prasad Sankpal (District Disaster Management Officer, Kolhapur) defined ‘disaster’ and enumerated its types. Trainers of Disaster Management and Wazir Rescue Force taught the volunteers how to tie various types of knots, how to bandage wounds and make stretchers. Dummy bodies were used to teach first aid and CPR. Practical sessions were held on vacating the victims from disaster-struck houses and places and taking them to safer areas. Mr. Umar Khan (State coordinator of Youth Wing JIH) held team building activities for the volunteers to ensure team management.
Boat assemble and disassemble exercises were conducted for rescue work in flood affected areas. They were taken to the Krishna River, where they were trained on operating motor and paddle boats, and taught how to rescue drowning people and how to make optimal use of the things available on the spot.
Information regarding venomous and non venomous snakes found in India was shared with the volunteers.
Written and practical exams were held, in addition to competitions. All participants were given certificates in the concluding session. Those who had scored well in the exams and the competitions were rewarded.
The Sarpanch of Kanwad, Babasaheb Arasgonda, appreciated the activities of this workshop. Mr. Mazher Farooque (Secretary, Dept. of Social Service, JIH Maharashtra) spoke to the volunteers on what is expected of them. Mr. Prasad Sankpal also offered his words of guidance. The curtains were drawn after Dr. Salim Khan (Vice President JIH Maharashtra) delivered his concluding address.
The volunteers were trained by Mr. Rauf Patel, Mr. Altaf Mulla and Sagar Sir, and the workshop was managed by Mr. Ashfaq Pathan, President, SIO Kolhapur. This camp was attended by 51 volunteers from all over the state.
IMG-20200304-WA0004 IMG-20200304-WA0003 IMG-20200304-WA0000
*आइडियल रिलीफ विंग का तीन दिवसीय डिजास्टर मैनेजमेंट कार्यशाला संपन्न*
जमाअत-ए-इस्लामी हिंद महाराष्ट्र की रिलीफ़ टीम आइडियल रिलीफ विंग अपने स्वयंसेवकों के प्रशिक्षण के लिए वार्षिक कार्यशाला आयोजित करती है ताकि आपदा की स्थिति में राहत कार्य के लिए गतिशील और फुरतीले रह सकें।  इस प्रकार का एक वर्कशॉप आइडियल रिलीफ विंग महाराष्ट्र ने
डिजास्टर मैनेजमेंट डिपार्टमेंट (आपदा प्रबंधन प्राधिकरण) कलेक्टर ऑफिस कोल्हापुर के सहयोग से IRW के स्वयंसेवकों के लिए मुकाम कन्वाड़ जिला कोल्हापुर में 29 फरवरी से 2 मार्च 2020 तक
तीन दिवसीय प्रशिक्षण प्रोग्राम का आयोजन किया । कार्यशाला की शुरुआत तज़कीर बिल क़ुरआन से हुई।  कार्यशाला के उद्देश्य और कार्यशाला से संबंधित  विवरण मजहर फ़ारूक ने प्रस्तुत की ।  प्रसाद संकपाल साहब (जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी, कोल्हापुर) ने डिजास्टर किसे कहते हैं और उसके कितनी प्रकार हैं इस विषय पर मार्गदर्शन किया।
 आपदा प्रबंधन और वज़ीर रेस्क्यू फोर्स (बचाव दल) के प्रशिक्षकों ने वॉलिंटियर्स को विभिन्न प्रकार की गांठें बनाना और  घायलों को ले जाने के लिए बैंडेज और स्ट्रेचर बनाना सिखाया, कृतिम शरीर पर  प्राथमिक चिकित्सा और सीपीआर का प्रशिक्षण दिया गया । प्रभावित स्थानों और मकानों से घायलों को निकाल कर सुरक्षित स्थान पर पहुंचाने का व्यवहारिक अभ्यास कराया गया।
  उमर खान (राज्य समन्वयक यूथ विंग) ने टीम प्रबंधन के लिए वॉलिंटियर्स को टीम बिल्डिंग गतिविधियां करवाईं ।
बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में बचाव कार्य करने में रेस्क्यू वर्क के लिए नाव बनाने का अभ्यास कराया गया और  कृष्णा नदी में नाव  (मोटर और पैडल बोट) चलाने की और पानी में डूब रहे लोगों को कैसे बचाया जाए और ऐसी दशाओं लोगों को बचाने के लिए मौके पर उपलब्ध सामग्रियों का कैसे इस्तेमाल करें उन सब का प्रशिक्षकों ने व्यवहारिक अभ्यास कराया ।
 भारत में पाए जाने वाले ज़हरीले सांपों के बारे में जानकारी दी गई।
 लिखित और व्यावहारिक परीक्षा आयोजित की गई और प्रतियोगिताएं करवाई गईं।
  अंतिम सेशन में डिजास्टर मैनेजमेंट कोल्हापुर और आइडियल रिलीफ विंग के द्वारा भाग लेने वाले सभी को सर्टिफिकेट दिए गए। प्रतियोगिताओं और परीक्षाओं में सफल हुए वालंटियर्स को पुरस्कार दिए गए।
 कन्वाड़ गांव के सरपंच बाबासाहब आरसगोंडा ने इस कार्यशाला की गतिविधियों की सराहना की । मज़हर फारूक (सचिव जन सेवा विभाग) ने स्वयंसेवकों से अपेक्षाओं पर प्रकाश डाला ।  प्रसाद संकपाल साहब ने स्वयंसेवकों का मार्गदर्शन  किया।  डॉ सलीम ख़ान साहब (मुआविन अमिरे हल्क़ा महाराष्ट्र) के संबोधन पर  वर्कशॉप का समापन हुआ ।
 कार्यशाला में प्रशिक्षक मा. रऊफ पटेल, अल्ताफ मुल्ला और सागर सर ने स्वयंसेवकों को प्रशिक्षण दिया।  कार्यशाला के प्रबंधक अशफाक पठान अध्यक्ष एसआईओ कोल्हापुर ने अंजाम दिया।
 इस शिविर में राज्य के विभिन्न स्थानों से 51 स्वयंसेवकों ने भाग लिया।
  • Post a comment

    Threaded commenting powered by interconnect/it code.

Western Maharashtra Flood Relief By JIH Mahrashtra | News 18

Get the latest updates via Email

Watch Our Latest Video

VISIT OUR OTHER WEBSITES